जानिए प्रेग्नेंसी के दौरान अपनी पत्नी का ख्याल कैसे रखें?

Loading...

माँ बनना एक बहुत ही सुखद एहसास है| लेकिन कोई भी महिला इस सुखद और सुंदर पहलू का आनंद तभी उठा सकती हैं जब गर्भावस्था के दौरान वो खुद और उसका बच्चा स्वस्थ रहे| ऐसा तभी मुमकिन हो सकता है जब गर्भवती महिला अपना अच्छे से ख्याल रखे|

किन्तु गर्भावस्था के शुरू के तीन महीनों में कई महिलाओं को जी मचलाने या उल्टी आने की शिकायत होती है। इसके अतिरिक्त कुछ महिला उन दिनों बीमार भी पड़ जाती है| लेकिन होने वाले बच्चे के स्वास्थ्य के लिए बहुत जरूरी है की उसकी माँ भी स्वस्थ रहे| इसलिए ऐसे में जरुरी है की पति अपनी पत्नी का ख्याल रखे| क्योंकि जब भी किसी लड़की को पता चलता है कि वह मां बनने वाली है तो वह इस बात को सबसे पहले अपने पति के साथ शेयर करना चा‍हती है|

क्योकि यह बात ना केवल लड़की के जिंदगी में बल्कि पति पत्नी दोनों की जिंदगी में ढ़ेर सारी खुशियां लाने वाली है। पत्नी के गर्भवती होते ही पति पर काफी जिम्मेदारियां आ जाती हैं।

क्या आपकी पत्नी भी जल्द ही माँ बनने वाली है और आप पिता| तो यह वक्त खुशिया मनाने के साथ जिम्मेदारियां निभाने का है| यह वक्त आपकी पत्नी का ख्याल रखने का है| तो आइये जानते है Wife Care during Pregnancy in Hindi.

Wife Care during Pregnancy in Hindi: गर्भावस्था में अपनी पत्नी का ऐसे रखें ख्याल

Wife Care during Pregnancy in Hindi

कई पति अपनी पत्नी के माँ बनने के बाद ऐसे मौकों पर जिम्मेदारियों से घबरा जाते हैं और परेशान होने लग जाते हैं। क्योकि गर्भवती महिला कई बार उदास होने लगती है और कई बार गुस्सा करने लगती यही| ऐसे में आप भी उनका ऐसा व्यवहार कतई न करें, वरना आपको ही आगे चलकर समस्या होगी। आपकी पत्नी की स्थिति को समझने का प्रयास करें और कुछ बातों का ध्यान रखे|

गर्भावस्था के दौरान मां कैसा महसूस करती है यह बात भी बहुत मायने रखती है| क्योंकि इससे होने वाले बच्चे की सेहत पर भी असर पड़ता है। इसलिए गर्भावस्था के दौरान आप अपनी पत्नी का अच्छे से ख्याल रखे, इनसे मां और बच्चे दोनों को फायदा होता है।

सबसे पहले खुद एडजस्ट करे

गर्भवती होने के बाद हर महिला के शरीर में काफी परिवर्तन आ जाता है जिसके चलते दैनिक कार्य रूटीन से नहीं हो पाते है| ऐसे में उन्हें कुछ भी कहने के बजाय कुछ समय के लिए आप खुद एडजस्ट करना सिख जाये| ऐसे में आपकी पत्नी परेशान नहीं होगी| जितना हो सके आपको होने वाली मां के कम्फर्ट का ध्यान रखना है| यदि आपको ब्रेकफास्ट नहीं मिल रहा है तो कुछ दिन बाहर ही नाश्ता कर ले|

पत्नी को प्यार दे

गर्भवती होने के बाद अपने शरीर में होने वाले परिवर्तन को देखकर स्त्री बहुत परेशान रहती है| उन्हें ऐसा लगता है की वह गर्भावस्था के दौरान अच्छी नहीं दिखती हैं, अब उनके पति उन्हें प्यार नहीं करेंगे। इसलिए उनका भ्रम दूर करे| उन्हें हर पल जताए की आप उनसे प्यार करते है और वो पहले जितनी ही सुंदर हैं। इसके साथ ही उनका ख्‍याल भी रखें।

कुछ महत्वपूर्ण बातो का ध्यान रखे

पति कुछ जरुरी बातो की जानकारी रखें जैसे पत्नी को कब कौन सा इंजेक्शन लगना है या फिर चिकित्सक को कब दिखाना है आदि| इसके अतिरिक्त यदि आपकी पत्नी को किसी चीज से एलर्जी है तो आपको इसका भी ध्यान रखना होगा|

Pregnancy Care Tips के लिए आप चाहे तो जानकारी के लिए इंटरनेट की मदद ले सकते है| जिससे आपको पता चल जाये की गर्भवती में कब क्या परिवर्तन होते हैं और उन्हें कैसे हैंडल करना चाहिए। आप चाहें तो परिवार में किसी की मदद भी ले सकते हैं|

पत्नी के कामो में हाथ बटाए

गर्भावस्था के दौरान पति अपनी पत्नी के घर के कार्यो में सहायता करें और उन्हें खुश रखें। बच्चे के जन्म के बाद भी उनका शरीर मजबूत नहीं रह पाता है| इसलिए आपकी पत्नी थके नहीं, इस बात का पूरा ख्याल रखे| साथ ही होने वाली मां को पूरी नींद लेने दें।

उसके खान पान का ख्याल रखे

देखा गया है की ज्यादातर महिलाएं इन दिनों में अपने खान-पान का विशेष ध्यान नहीं रख पातीं है| जिसे चलते उनके शरीर में लौह तत्व की कमी से एनीमिया होने की संभावना बढ़ जाती है। इसलिए अपनी पत्नी के खान पान का भी ख्याल रखे| चाहे तो कुछ दिन के लिए अपने किसी रिस्तेदार को मदद के लिए बुलाले|

गर्भावस्था में स्त्री को हरी पत्तेदार सब्जियां, फल, दाल, अंकुरित अनाज, प्रचुर मात्रा में दूध आदि अवश्य लेना चाहिए|

इन बातो का भी रखे ख्याल:-

  1. गर्भावस्था के दौरान अपनी पत्नी के साथ रेगुलर चेकअप पर जाएं। अल्‍ट्रासाउंड रूम में भी साथ रहें और बच्चे की हरकत को पेट छूकर महसूस करे|
  2. प्रेगनेंसी के दौरान महिलाओं को कमर में भयानक दर्द होता है। इसलिए ऐसे में उन पर अधिक काम का बोझ न लादें।
  3. अपनी पत्नी की भी बात सुनें, उनसे पूछें की उन्हें क्या अच्छा लगता है क्या नहीं| उनका ख्‍याल रखने के साथ साथ अधिकतर समय उनके साथ बिताएं।
  4. रोमेंटिक बातों के लिए टाइम निकाले, क्योकि कुछ समय बाद आप दोनों अकेले नहीं रह जाएंगे। फिर शायद नन्हे को सँभालने के चक्कर में आप एक दूसरे को ज्यादा वक्त नहीं दे पाए|

ऊपर आपने जाना Wife Care during Pregnancy in Hindi. दी गयी बातो को जाने, समझे| अपनी पत्नी का ध्यान रखें और एक पति का फर्ज निभाए|

Source: hrelate

Loading...

कृपया इस महत्वपूर्ण जानकारी को अपने परिवार और मित्रों  के साथ ज्यादा से ज्यादा शेयर करें!

Loading...

Next post:

Previous post: