आँखों की रौशनी बढ़ाने में मददगार है विटामिन ए, जाने अन्य फायदे

Loading...

हमारे शरीर को उसके कार्य करने के लिए विटामिन्स की जरुरत होती है| यदि शरीर में विटामिन्स की कमी हो जाये तो कई दुष्परिणाम देखने को मिलते है| हर एक विटामिन का अपना अलग महत्व है| विटामिन्स के कई प्रकार होते है जैसे विटामिन ए, विटामिन बी, विटामिन सी, विटामिन डी आदि| आज हम आपको बेहद महत्वपूर्ण विटामिन ए के बारे में जानकारी दे रहे है|

क्या आप जानते है विटामिन ए की कमी से रतौधि (अँधेरे में कम दिखाई देना) नामक बीमारी हो जाती है| इसके साथ ही इसकी शरीर में कमी होने पर आँखों में आंसू की कमी हो जाती है और आँखे सूख जाती हैं और उसमें घाव भी हो सकता है। दरहसल यह विटामिन शरीर में अनेक अंगों को सामान्य रूप में बनाये रखने में मदद करता है|

सिर्फ शारीरिक स्वास्थ्य ही नहीं बालों की सुंदरता के लिए भी विटामिन ए प्रमुख तत्व है| विटामिन ए आपके बालों को लंबा, घना और मुलायम बनाए रखता है। दरहसल इसकी कमी का प्रभाव सबसे पहले बालों पर ही पड़ता है और वे बेजान हो जाते है| हम आपको बताना चाहते है की बालों के लिए विटामिन ए की 1000 से 4000 यूनिट की जरूरत होती है। आइये विस्तार से जानते है Vitamin A in Hindiऔर इसके लाभो के बारे में|

Vitamin A in Hindi: जानिए विटामिन ए के लाभ और इसके स्त्रोत 

Vitamin A in Hindi

अच्छे स्वास्थ्य के लिए यह सबसे महत्वपूर्ण विटामिन है। यह आपके आंखों की रौशनी को तेज करता है और उसकी मासपेशियों को मजबूत बनाता है। यह वसा में घुलनशील विटामिन है। मुख्यत: यह रेटिनॉयड और कैरोटिनॉयड दो रूपों में पाया जाता है। किसी आहार में इसे पहचानने का तरीका यह है की सब्जियों का रंग जितना अधिक गहरा और चमकीला होगा, उनमें कैरोटिनॉयड की मात्रा उतनी ही अधिक होती है|

यह हमारे शरीर के लिए बेहद जरुरी है| यदि हम बच्चों की बात करे तो जिन बच्चों में विटामिन ए का अभाव होता है, उनका विकास धीरे होता है| इसके कारण उनके कद पर भी असर पढता है| साथ ही त्वचा और बालों में भी सूखापन हो जाता है|

Vitamin A Rich Foods: विटामिन ए के स्त्रोत 

Source of Vitamin A की बात करे तो यह हरी सब्जियों में अधिक पाया जाता है| सब्जियों में पालक, चुकंदर, मटर, धनिया, ब्रोकली, टमाटर, गाजर, आदि इसके स्त्रोत है| वही फलों में गिरीदार फल, पपीता, चीकू, शकरकंद, तरबूज, आम, पीले या नारंगी रंग के फल इसके स्त्रोत है| इसके अतरिक्त बटर, बींस, राजमा, सरसों, शलजम आदि में भी यह मौजूद होता है, लेकिंन इनमे सैचुरेटेड फैट अधिक होता है|

Vitamin A Benefits in Hindi: विटामिन ए के फायदे

  1. यह आँखों की रौशनी बढ़ाने में मददगार है|
  2. विटामिन ए भ्रूण के विकास के लिए भी अच्छा माना जाता है|
  3. त्वचा के लिए भी यह स्वास्थवर्धक होता है| इससे चेहरे पर चमक आती है और त्वचा में नमी आती है|
  4. यह पुरुषों में स्पर्म के उचित मात्रा के विकास के लिए जरुरी है|
  5. यह प्रतिरोधक तंत्र को मजबूत बनाता है| इससे कई तरह की फ़ूड एलर्जी से बचाव होता है|
  6. बालों की सुंदरता के लिए विटामिन ए प्रमुख तत्व है, जो इन्हें लंबा, घना व मुलायम बनाए रखता है।
  7. विटामिन ए रक्त में कैल्शियम के स्तर को बनाए रखता है, जिससे की हड्डिया और दांत मजबूत होते है|
  8. कोशिकाओं को कार्य करने के लिए ऊर्जा की जरुरत होती है| ऊर्जा पैदा करने के लिए भी इसकी जरुरत पडती है।

विटामिन ए की कमी के लक्षण

  • यदि गर्भवती महिला को विटामिन ए की कमी हो जाती है तो उनके गर्भावस्था और प्रसव के समय मृत्यु की संभावना बढ़ जाती है|
  • विटामिन ए की कमी से आँखों की रौशनी कम होती है, जिसके कारण रतोंधी नामक बीमारी हो जाती है|
  • इसके अतरिक्त इसके कमी से और भी कई परेशानियां देखि गयी है जैसे सर्दी-जुखाम, थकान, नींद न आना, त्वचा में सुखापन, कान में फोड़ा होना, वजन में कमी, दांतों का कमजोर होना आदि|

अत्यधिक सेवन भी हानिकारक

कुछ लोग इसका फायदा जानने के बाद इसका अधिक सेवन करने लगते है| लेकिन यह गलत है हर चीज़ को संतुलित मात्रा में ही लेना चाहिए| इसका अधिक सेवन करने पर शरीर पर अनेक दुष्प्रभाव जैसे की थकावट, हड्डी और जोडों में दर्द, सिरदर्द, देखने में दिक्कत, बालों का गिरना, त्वचा खराब हो जाना, लडकियों में असमय मासिक धर्म की समस्या देखने को मिलती है| गर्भ के दौरान भी अत्याधिक विटामिन ए के सेवन से पेट में पलते बच्चे को नुकसान पहुंचा सकता है।

ऊपर आपने जाना Vitamin A in Hindi. स्वस्थ रहने के लिए विटामिन ए का सेवन करना चाहिए। शाकाहारी लोगों और शराब का सेवन करने वालों को इसकी अधिक जरूरत होती है। लिवर की बीमारियों और सिस्टिक फाइब्रोसिस आदि से ग्रसित को इसका सेवन जरूर करना चाहिए|

Source: hrelate

Loading...

कृपया इस महत्वपूर्ण जानकारी को अपने परिवार और मित्रों के साथ ज्यादा से ज्यादा शेयर करें!

Loading...

Next post:

Previous post: