त्वचा और बालो पर इमली लगाये और फरक देखे

Loading...

आप आश्चर्य कर रहे होंगे कि इमली को अपनी त्वचा पर बाहरी तौर पर लगाने से क्या प्रभाव पडेगा? कुछ नहीं, केवल सुंदरता! त्वचा और बालो पर इमली लगाये और फरक देखे। लाभ के लिए इसे गहराई से पढ़ेः

Twacha Aur Baalo ke Liye Imli in Hindi

1. त्वचा को चमकदार बनाती है:

त्वचा की रंगत को हल्का बनाने के लिए इमली की लुगदी का प्रयोग किया जा सकता है। इस फल की 30 ग्राम मात्रा को 150 मिली. गर्म पानी में 10 मिनिट के लिए भिगोएं। लुगदी को निचोड़ लेवें। इस रस में 1/2 छोटा चम्मच हल्दी पाउडर मिलाएं। इसे साफ त्वचा पर समान रूप से लगाएं और 15 मिनिट रहने देवें। साफ और चमकदार त्वचा पाने के लिए इसे गुनगुने पानी से धो लेवें। यह पैक तैलीय त्वचा के लिए आदर्श है और चमकदार त्वचा के लिए सप्ताह में 3 बार उपयोग किया जा सकता है।

2. प्राकृतिक स्किन एक्सफोलीएटिंग एजेंट:

इमली अल्फा हाइड्रोक्सिल एसिड का अद्भूत स्त्रोत है।

एक छोटे चम्मच इमली के रस में एक छोटा चम्मच नमक और एक बड़ा चम्मच मलाई या दही मिलाएं। मलाई जहां शुष्क त्वचा के लिए आदर्श है वही दही तैलीय त्वचा के लिए अच्छा कार्य करता है। सभी पदार्थों को अच्छी तरह मिलाएं। इस मिश्रण को उंगलियों की सहायता से अपने चेहरे पर समान रूप से लगाएं, मृत कोशिकाओं को हटाने और साफ त्वचा पाने के लिए 5 से 7 मिनिट गोल घुमावदार तरीके से अच्छी तरह मसाज करें।

3. स्वाभाविक स्किन ब्लीचिंग का गुण:

शुद्ध और प्राकृतिक इमली के रस से अपनी त्वचा को प्राकृतिक रूप से ब्लीच करें। एक चम्मच इमली के रस को नींबू और शहद प्रत्येक एक चम्मच के साथ मिलाएं। चमकदार त्वचा दिखाने के लिए इस मिश्रण को अपने चेहरे पर लगाएं और 15 मिनिट बाद धो लेवें।

4. सेल्युलाईट के लिए प्राकृतिक उपचार:

2 छोटे चम्मच इमली के रस को चीनी और नींबू का रस प्रत्येक एक चम्मच और आधा छोटा चम्मच बैकिंग सोड़ा के साथ मिलाएं। इन पदार्थों को अच्छी तरह मिलाएं। इसे त्वचा पर लगाएं और एक ब्रश स्क्रब को गोलाकार घुमाएं। यह सेल्युलाईट के दिखने को कम करेगा। ध्यान रखें इसे त्वचा को वैक्स करने से पहले करें नहीं तो छाले हो सकते है। यह उपचार तैलीय त्वचा वाले लोगों के लिए है।

5. प्राकृतिक स्किन हाइड्रेटिंग और टोनिंग गुण:

एक कटोरी उबालकर ठण्डा किया हुआ इमली का पानी प्राकृतिक स्किन हाइड्रेटिंग और टोनिंग एजेंट की तरह कार्य करता है। केवल 15 ग्राम इमली को उबलते हुए गर्म पानी में मिलाएं और 15 मिनट तक धीरे-धीरे पकने देवें। 2 छोटे चम्मच ग्रीन टी पानी में मिलाएं और 5 मिनट तक पकने दें। दोनों द्रव्यों को अच्छी तरह छान लेवें। यह प्राकृतिक स्किन हाइड्रेटिंग और टोनिंग एजेंट की तरह उपयोग किया जा सकता है। आपको केवल इस मिश्रण को ठण्डा होने देना है और फिर लगाना है।

6. प्राकृतिक एंटी एजिंग एजेंट:

इमली में अनेक एसिड्स, एंटीऑक्सीडेंट्स, फाइबर और विटामिन होते है जो फ्री रेडिकल्स से लड़ते है। ये फ्री रेडिकल्स प्रीमैच्योर एजिंग का कारण होते है। इस नुकसान से बचने और अपनी त्वचा को चमकदार बनाने एवं युवा दिखने के लिए बेसन, इमली का रस, सूजी और शहद से बना पैक नियमित रूप से लगाएं।

7. गले के चारों ओर काले घेरों को हटाती है:

गले पर काली छाया पुरूषों की तुलना में महिलाओं में आम तौर पर होती है। जबकि हम में से ज्यादातर तत्काल राहत के लिए ब्लीचिंग एजेंट का सहारा लेते है, यहाँ एक प्राकृतिक तत्व है जिसका लम्बे समय तक रहने वाला प्रभाव होता है। 1 छोटा चम्मच इमली का गाढ़ा रस 1 छोटे चम्मच शहद और 1 छोटे चम्मच गुलाब जल के साथ मिलाएं। इसे गर्दन पर लगाएं और 20 मिनट रहने देवें। इसे गुलाब जल या गुनगुने पानी से धो लेवें। इसे लम्बे समय तक करने से कालेपन को पूरी तरह दूर करने में सहायता मिलती है।

8. धब्बों मुक्त त्वचा के लिए:

AHA युक्त होने के कारण इमली एक स्थापित एंटीब्लेमिश एजेंट है। यह पिगमेंटेशन के लिए एक प्राकृतिक उपचार की तरह कार्य करने के लिए जानी जाती है। धब्बों और पिगमेंटेशन से मुक्ति के लिए और साफ त्वचा पाने के लिए केवल ताजा बना हुआ इमली का रस चेहरे पर लगाएं।

9. इंफ्लेमेटरी स्किन कंडिशंस के उपचार के लिए:

इमली में मौजूद विटमिन C, A और अन्य एंटीऑक्सीडेंट्स इसे कील, मुंहासों जैसी विभिन्न इंफ्लेमेटरी स्किन कंडिशंस के लिए प्राकृतिक उपचार बनाते है। इमली रस को हल्दी पाउडर और ताजा दही के साथ मिलाएं। इस पैक को अपने चेहरे पर लगाएं और इसे सुखने देवें। इसे गुनगुने पानी से धो लेवें और केवल तैलीय त्वचा के लिए अच्छा मॉइश्चराइजर लगाएं। यह न केवल त्वचा के फुटने से लड़ता है बल्कि आपकी त्वचा को चमक भी प्रदान करता है।

10. बालों को झड़ने से रोकती है:

इमली बालों को मजबूत बनाने और झड़ने से रोकने के लिए जानी जाती है। नींबू के आकार की इमली की बॉल को 10 मिनट तक पानी में भिगोएं। रस निचोड़ लेवें और इसे पूरी खोपड़ी एवं बालों में मसाज करें। एक टॉवेल को गुनगुने पानी में डुबोएं और अतिरिक्त पानी निचोड़ लेवें। इस गर्म टॉवेल को अपने बाल और खोपड़ी को ढ़कने के लिए प्रयुक्त करें। ऐसे ही आधा घण्टा रहने देवें। इसके बाद अच्छे शैम्पू के बाद कंडिशनर से अच्छी तरह साफ करें। बालों का झड़ना रोकने के लिए इसे सप्ताह में दो बार दोहराएं।

Source: healthindian

Loading...

कृपया इस महत्वपूर्ण जानकारी को अपने परिवार और मित्रों  के साथ ज्यादा से ज्यादा शेयर करें!

Loading...

Next post:

Previous post: