गर्भवती होने के पहले और दौरान महिलाएं इन बातों का रखे ख्याल

Loading...

हर औरत का सपना होता है कि वह एक नन्ही सी जान को इस दुनिया में लाये और मां बनें। किन्तु मां बनना आसान नहीं होता है, कोख में अंदर 9 महीने बच्चे को पालना कोई खेल नहीं है, इस वक्त स्त्रियों को काफी परेशानियों का सामना करना पड़ता है।

गर्भवती होने के पहले और दौरान महिलाएं इन बातों का रखे ख्याल

इसलिये पुरे परिवार को महिला की देखरेख करना चाहिए, साथ ही स्त्री को भी खुद का ख्याल रखना चाहिए| और जो महिलाएं बाहर काम करती हैं और तनावपूर्ण ज़िन्दगी जीती हैं, उनके लिए जरुरी है कि वो तनाव को दूर रखें और एक खुशहाल ज़िंदगी जींए।

यदि आप अपने परिवार को बढ़ाने के बारे में सोच रही हैं, तो जरुरी है कि आप निम्न बातों का ध्यान  रखें।

तनाव ना ले

गर्भावस्था के दौरान तनाव लेने से बचना चाहिए| तनाव लेने से आपके बच्चे के स्वास्थ्य पर असर पड़ता है। इसलिए शांत मन रखे, आप चाहे तो मेडीटेशन की मदद ले सकते है| यह तो हुई गर्भावस्था के दौरान की बात, लेकिन यदि अभी केवल प्लानिंग कर रही है तो हम आपसे यही कहना चाहेंगे की सबसे पहले तो आप स्त्री रोग विशेषज्ञ से मिलें|

वह आपके कुछ टेस्ट करेगी जिससे आपको यह पता चल पाएगा कि आप माँ बनाने के लिए तैयार है या नहीं। डॉक्टर की सलाह लेने से आगे चल कर गर्भपात और अन्य समस्याओं का सामना करने का खतरा 90 प्रतिशत तक घट जाता है|

अच्छी और पूरी नींद ले

गर्भावस्था के दौरान कम से कम 8 घंटे की नींद जरूर लें। इसके अतिरिक वक्त पर सोना भी जरुरी है| दिन के दौरान भी झपकी ले, इससे आपको राहत मिलेगी और फ्रेश महसूस होगा|

किसी भी प्रोडक्ट्स का मन से इस्तेमाल ना करे

प्रेगनेंसी के दौरान कुछ औरतो को त्वचा पर दाने हो सकते हैं| इसके लिए मन से कोई भी क्रीम का इस्तेमाल नहीं करना चाहिए| किसी भी तरह की दिक्कत से बचने के लिए डर्मोटोलगिस्ट से संपर्क करना चाहिए|

आयोडीन हो आहार का हिस्सा

गर्भवती महिलाओं के लिए आयोडीन बहुत जरुरी होता है| दरहसल यह होने वाले बच्चे के मस्तिष्क का विकास करता है तथा तंत्रिका तंत्र के विकास में भी सहायक है। इसलिए आयोडीन को अपने आहार में जरूर शामिल करें।

धूम्रपान से गर्भपात का खतरा

कुछ औरतो को धूम्रपान करने की आदत होती है| यदि आपको भी ऐसी कुछ बुरी आदत हे तो उसे छोड़ दे| यदि आपने गर्भवती होने से पहले धूम्रपान नहीं छोड़ा तो इसका आपके बच्चे पर बुरा असर पड़ेगा| वह किसी शारीरिक विकृति से भी ग्रस्त हो सकता है। यहाँ तक की धूम्रपान की वजह से गर्भपात का खतरा भी रहता है|

पति भी रखें पत्नी का ख्याल:-

  1. प्रेगनेंसी के वक्त महिला के शरीर में काफी परिवर्तन होते हैं, ऐसे में पति उनकी मदद करें। घर के कामों में भी सहायता करें और उन्‍हें खुश रखने की कोशिश करे|
  2. कुछ बातो की जानकारी रखे की वाइफ को कब कौन सा इंजेक्शन लगना है या फिर उसे चिकित्सक को कब दिखाना है आदि|
  3. गर्भावस्था के दौरान महिलाओं को लगता है की वो अच्छी नहीं दिखती हैं। ऐसे में उनका भ्रम दूर करें, उन्हें जताएं कि वो पहले जितनी ही सुंदर हैं और उनका ख्‍याल रखें।

Source: hrelate

Loading...

कृपया इस महत्वपूर्ण जानकारी को अपने परिवार और मित्रों  के साथ ज्यादा से ज्यादा शेयर करें!

Loading...

Next post:

Previous post: