टुथपिक के कुछ कुदरती विकल्प

Loading...

टुथपिक के कुछ कुदरती विकल्प

अगर आप बाहर खाना खाने जाते होंगे तो खाने के बाद वेटर आपको टुथपिक भी जरूर देकर जाता होगा. अब तो घरों में भी टुथपिक का इस्तेमाल किया जाने लगा है.दांतों के बीच में फंसे खाने के टुकड़ों और रेशों को निकालने के लिए टुथपिक प्रयोग में लाई जाती है. लेकिन कई बार इसकी नोक से मसूड़े घायल हो जाते हैं. ऐसे में प्राकृतिक उपायों से भी दांतों के बीच में फंसे टुकड़ों को निकाल सकते हैं.

इन नेचुरल चीजों के इस्तेमाल से न तो मसूड़ों के घायल होने का डर होता है और न ही किसी तरह के केमिकल साइड-इफेक्ट का खतरा रहता है. और एक खास बात यह भी है कि इनसे मुंह से जुड़ी कई समस्याओं का भी समाधान हो जाता है.

1. करी पत्ते की डंठल
करी पत्ते का पेड़ बहुत आसानी से मिल जाता है. उसमें से एक पतली टहनी तोड़कर उसकी सारी पत्तियों को हटा दें. इस डंठल को शहद में डुबोकर एक या दो दिन के लिए रख दें. तब तक आपके लिए एक बढ़िया टुथपिक तैयार हो जाएगी.

2. नीम की पत्तियों की डंठल
दांत साफ करने के लिए नीम से बेहतर शायद ही कुछ हो. नीम के औषधीय गुण मुंह की बदबू और मसूड़ों से खून आने की समस्या को दूर करते हैं. वहीं इस डंठल को चबाने से पीले दांत प्राकृतिक रूप से सफेद भी हो जाते हैं.

3. दालचीनी के इस्तेमाल से
दालचीनी की डंठल को भी टुथपिक की तरह इस्तेमाल कर सकते हैं. दालचीनी भारतीय व्यंजनों में इस्तेमाल होने वाला एक प्रमुख मसाला है. इसमें ऐसे कई गुण होते हैं जो मसूड़ों की तकलीफ दूर करने के साथ मुंह की बदबू को भी कम करते हैं.

4. नींबू की डंठल
नींबू के पेड़ की डंठल एक अन्य कारगर और नेचुरल टुथपिक साबित हो सकती है. यह दांतों के बीच में फंसे खाने के कणों को निकालने में तो मददगार होती ही है. इसके अलावा, इसे चबाने से मुंह की दुर्गंध और दांतों का पीलापन भी कम होता है.

5. संतरे की डंठल
अगर आपके घर में या आस-पास कहीं संतरे का पेड़ है तो यह आपके बहुत काम आएगा. संतरे की मीठी गंध जहां मुंह की बदबू को दूर रखती है वहीं इसकी डंठल एक बेहतरीन टुथपिक है.

Source: aajtak

Loading...

कृपया इस महत्वपूर्ण जानकारी को अपने परिवार और मित्रों  के साथ ज्यादा से ज्यादा शेयर करें!

Loading...

Next post:

Previous post: