माइग्रेन का दर्द बन न जाए हार्ट अटैक की वजह

Loading...

माइग्रेन के मरीजों के लिए ये खबर चिंता का विषय बन सकती है क्‍योंकि दर्दनाक बीमारी माइग्रेन अपने साथ हार्ट अटैक का खतरा लेकर आती है. जर्मनी के इंस्टीट्यूट ऑफ पब्लिक हेल्थ और अमेरिका के हार्वर्ड टीएच चान स्कूल ऑफ पब्लिक हेल्थ में माइग्रेन, हृदय संबंधी रोग और मृत्यु के बीच संबंधों को लेकर किए गए इस अध्ययन में पाया गया कि माइग्रेन न सिर्फ आपके मस्तिष्‍क को प्रभावित करता है बल्कि माइग्रेन और हृदय रोगों का संबंध आपकी मौत से भी हो सकता है.

migraineandheart_146521578412_650_060616055347-800x500_c

अनुसंधानकर्ताओं का कहना है कि इस अध्ययन से पता चलता है कि माइग्रेन को हृदय संबंधी रोगों के संबंध में एक गंभीर खतरे की तरह देखा जाना चाहिए. माइग्रेन का संबंध स्ट्रोक बढ़ने के खतरे से रहा है लेकिन कुछ अध्ययनों के अनुसार माइग्रेन और हृदय संबंधी रोगों का संबंध कम उम्र में भी आपके लिए खतरा पैदा कर आपकी मौत के लिए जिम्मेदार हो सकता है.

खासतौर से माइग्रेन से पीडि़त महिलाओं में हार्ट अटैक और स्ट्रोक का खतरा धीरे-धीरे बढ़ता है और इन कारणों के चलते उनकी मौत उन लोगों की तुलना में जल्दी हो सकती है जिन्हें माइग्रेन नहीं है. बीएमजे जर्नल में प्रकाशित एक रिसर्च में इस बात का खुलासा हुआ है.

Source: emalwa

Loading...

कृपया इस महत्वपूर्ण जानकारी को अपने परिवार और मित्रों  के साथ ज्यादा से ज्यादा शेयर करें!

Loading...

Next post:

Previous post: