जानिये छोटी सी लौंग (क्लोव) के आश्चर्यजनक फायदे

Loading...

लौंग भारत के लगभग हर घर में इस्तेमाल किया जाने वाला मसाला है| अंग्रेजी में इसे क्लोव कहा जाता है| इसमें पाये जाने वाले तत्व यूजेनॉल के कारण इसका स्वाद तीखा होता है| और यही तत्व इसकी गंध के लिए भी जिम्मेदार है|

वैसे तो यह रसोई घर मे इस्तेमाल होने वाला मसाला है, लेकिन इसके इस्तेमाल से कई रोगो में भी फायदा मिलता है| इससे मुंह की बदबू दूर होती है| पेट के कीड़े मरते है आदि| यह न केवल शारारिक रोगो में बल्कि त्‍वचा रोगो में भी फायदेमंद है|

भोजन का स्वाद बढ़ाना हो या फिर दर्द से राहत पानी हो, एक छोटी सी लौंग को हम कई तरह से प्रयोग में ला सकते है| इसके फायदे भी ढेरो हैं। यह साधारण सर्दी-जुकाम से लेकर कैंसर जैसे बड़ी बीमारियो के उपचार में लाभदायक है। लौंग का प्रयोग ना केवल आयुर्वेद में बल्कि होम्योपैथी में भी किया जाता है| आइये जानते है Long Ke Fayde in Hindi.

Long Ke Fayde in Hindi: जाने लौंग से होने वाले फायदे

Long Ke Fayde in Hindi

पाचन शक्ति बढ़ाये

लौंग का इस्तेमाल भोजन का स्वाद बढ़ाने के लिए किया जाता है| लेकिन क्या आप जानते है इसके इस्तेमाल से पाचन संबंधी समस्याओं में भी फायदा पहुँचता है। इसमें मौजूद तत्व जी मचलना,  डायरिया, अपच आदि परेशानियों को दूर करने में फायदेमंद है|

श्वास संबंधी रोगों से निजाद 

लौंग उन लोगो के लिए बेहद असरदार माना गया है, जिन्हे श्वास सम्भंदित बीमारिया है, लौंग के तेल का अरोमा इतना सहकत होता है, की इससे सूंघने से कफ, जुखाम, साइनसाइटिस आदि समस्याओं में तुरंत निजात मिल जाता है।

खांसी में लाभदायक

लौंग का सेवन खांसी में फायदेमंद है, यह बात आपके लिए नयी नहीं होगी| क्योंकि लौंग का अधिकतर सेवन हम उसी वक्त करते है, जब हमे खांसी की परेशानी होती है| क्युकी इससे हमारे गले को बहुत आराम महसूस होता है| खांसी के अलावा यह सर्दी, जुखाम जैसी अन्य परेशानियों को भी दूर करने में भी सहायक है|

मसूड़ों की तकलीफ में फायदेमंद

अगर आपको दन्त सम्भंदित तकलीफ है, तो लौंग से ज्यादा असरदार और कोई औषधि नहीं है, लौंग को मसूड़ों के उस हिस्से में रख कर चबाये जहा दर्द ज्यादा हो रहा हो, ऐसा करने से जल्द ही आराम महसूस होने लगेगा।

गठिया में फायदा

लौंग गठिया रोग से होने वाले जोड़ों के दर्द और सूजन से भी आराम दिलाने में सहायक है। दरहसल इसमें पाया जाने वाला फ्लेवोनॉयड्स दर्द दूर भगाने में मदद करता है। इसलिए डॉक्टर्स भी गठिया में लौंग के तेल की मालिश करने की सलाह देते है।

कट जाने पर काम आये

आप शायद नहीं जानते होंगे लेकिन लौंग एक एंटीसेप्‍टिक की तरह भी काम करती है| इसलिए यदि आपकी त्वचा कट जाती है, या छिल जाती है, तो लौंग का पेस्‍ट बना कर त्‍वचा के कटे छिले स्‍थान पर लगाये। यह त्‍वचा पर जमे बैक्‍टीरिया का नाश करती है।

लौंग से पाये अच्छी त्वचा

Clove Oil Benefits भी है| लौंग में तेल में पोटैशियम, आयरन, विटामिन A और विटामिन C होने के कारण इससे आपके चेहरे पर होने वाले दाग, मुँहासे और ब्लैकहेड्स से छुटकारा पाया जा सकता है।

Cloves Benefits in Hindi- लौंग से होने वाले अन्य लाभ

  1. लौंग का सेवन पायरिया ठीक करने में भी लाभकारी होता है।
  2. लौंग से पाचन क्रिया सही रहती है।
  3. लौंग की कली को दिन में 3 से 4 बार खाने से मुह की दुर्गन्ध दूर होती है।
  4. अर्थरिटिस के रोगियों को लौंग का पेस्ट बनाकर जोड़ो में लगाने से फायदा मिलता है|
  5. यहाँ चेहरे के फ्री रेडिकल्स को कम करने में भी असरदार होती है। जिससे त्वचा बेदाग होती है|
  6. सर्दी में लौंग की चाय पिने से या इसे डायरेक्ट मुँह में रखने से खांसी कम होती है|
  7. प्रेगनेंसी के दौरान लौंग को मिश्री के साथ पीसकर उसका सेवन करने से जी नहीं घबराता है।

लौंग की चाय के भी है फायदे 

सिर्फ लौंग ही नहीं लौंग की चाय भी ठंडी में फायदेमंद होती है| ठंड के दिनों में अकसर लोगो को खासी, बुखार, कफ या गला ख़राब होने की दिकत बढ़ने लग जाती है, पर अगर आप लौंग की चाय का सेवन दिन में 2 बार करेंगे तो आपकी यह समस्या ठीक हो जाएगी। इसकी चाय बनाने के लिए 4-5 लौंग को पीस ले, अब इसे 2 कप पानी में, चाय पत्ती के साथ डालकर उबालें| इसे तब तक उबाले जब तक पानी दो कप से एक कप ना रह जाये| अब इस पानी को गरम गरम पिये|

ऊपर आपने जाना Long Ke Fayde in Hindi. आपको भी यदि ऊपर दी गयी समस्याओ में कोई और समस्याए हो तो आप भी लौंग के इस्तेमाल से लाभ पा सकते है| लेकिन इसका सेवन लिमिट में ही करे| यदि आप इसका सेवन हद से ज्यादा करते है तो आपको खुजली, साँस लेने में तकलीफ और रिएक्शन होने की सम्भावना बढ़ जाती है| इसलिए अपनी परेशानी के अनुसार ही इसका सेवन करना चाहिए|

Source: hrelate

Loading...

कृपया इस महत्वपूर्ण जानकारी को अपने परिवार और मित्रों  के साथ ज्यादा से ज्यादा शेयर करें!

Loading...

Next post:

Previous post: