करेला करे डायबिटीज को दूर

Loading...

आपने ये जरूर सुना होगा कि करेला कितना फायदा करता है। डायबिटीज वालों के लिए यह एक वरदान है। करेले में कैलोरी तो कम होती है परंतु अनमोल पोषक तत्व की मात्रा इसमें प्रचूर होती है। यह विटामिन B 1, B 2, B 3, सी, मैग्निशियम, फोलिक एसिड, जिंक, फॉस्फोरस, मैग्नीज, एवं आहार संबंधी रेशों का धनी स्त्रोत है। इसमें प्रचूर मात्रा में लोहा है, इसमें फूल गोभी से दुगूना बीटा-केरोटीन, पालक से दुगूना केल्शियम एवं केले से दुगूना पोटेशियम पाया जाता है। Read Health Benefits of Karela in Hindi (Karela ke Fayde).

 Karela ke Fayde

1. डायबिटीज में करेला (Bitter gourd for Diabetes )

Karela Ka Swasth Labh in Hindi

करेला रक्त में उपस्थित ग्लूकोज को कम करता है क्योंकि इसमें करेन्टीन नामक रसायन होता है जो उच्च रक्त ग्लूकोज के स्तर को कम करता है, इसलिए यह डायबिटीज वालों के लिए बहुत अच्छा है। करेला पूरे शरीर के ग्लूकोज मेटाबोलिज्म को प्रभावित करता है, यह अन्य चिकित्सकीय दवाओं की तरह केवल एक अंग या ऊतक तक ही अपना प्रभाव नहीं दिखाता।

यह एंटीऑक्सीडेंट्स से भरपूर है जो डायबिटीज के दौरान दिखने वाली अन्य जटिल समस्याओं को खत्म करता है। इससे भी ज्यादा महत्त्वपूर्ण इसके बीज पोलिपेप्टाइड-पी नामक प्लांट इंसुलिन से भरपूर होते है जो इंसान की अग्नाशय ग्रंथि में निर्मित इंसुलिन को खत्म करके, उसके शुगर लेवल को कम करता है।

2. रक्त संबंधी रोगों एवं पीलिया के लिए करेला (Bitter Gourd for Blood Diseases)

karela

यह रक्त को शुद्ध करता है, तथा कई रक्त संबंधी रोगों जैसे ब्लड बोईल्स एवं खूजली जो रक्त में विषैले पदार्थ की वजह से होती है को सही करता है। करेला में कई लाभदायक गुण होते है जो रक्त को विषैले पदार्थ से साफ रखता है और इसी वजह से यह पीलिया को भी सही करता है।

3. गठिया में करेला (Bitter Gourd for Arthritis)

2A7D8C7C00000578-0-image-a-4_1436776959088

करेले का रस लीवर की सफाई करता है। यह विषैले रक्त को साफ करता है, रक्त संचरण को सही करता है तथा गठिया के दर्द से आराम दिलाता है।

4. पाइल्स में करेला (Bitter Gourd for Piles)

1

अगर आप पाइल्स से पीडि़त है तो करेले के ताजा रस का सेवन करें। हालांकि पाइल्स कोई गंभीर बिमारी नहीं है, न ही जीवन के लिए खतरा है तब भी यह कूछ ऐसी बिमारी है जिसे इसके कारण होने वाले दर्द की वजह से नजरअंदाज नहीं किया जा सकता है। करेले की पत्तियां मलोत्सर्जन की क्रिया को नियंत्रित करती है तथा पाइल्स को प्राकृतिक तरीके से सही करती है।

5. अल्कोहॉल के सेवन में करेला (Bitter Gourd for Alcoholism)

Alcohol1

करेले का रस अपनी अल्कोहॉल जनित विषैले पदार्थों को दूर करने के गुण की वजह से शराब सेवन के दूष्पिरिणाम को सही करने में लाभदायक है। यह शराब सेवन की वजह से होने वाले इन्फेक्शन से जुड़ी लीवर की समस्या में लीवर की सफाई, उसकी मरम्मत एवं उसे पोषित करता है।

6. इन्फेक्शन में करेला (Bitter Gourd for Infection)

bitter-gourd (1)

करेले की पत्तियों का ताजा रस मलेरिया की प्रारम्भिक अवस्था को ठीक करता है। यह बैक्टिरियां को नष्ट करता है जो मलेरिया को पनपने का कारण है। यह कुछ वायरस जैसे खसरा, चेचक, हर्पिस एवं एच.आई.वी. जैसी भयंकर बिमारी आदि को कमजोर बनाता है। यह बैक्टिरिया की विकास को धीरे कर देता है एवं जब वे कमजोर पड़ जाते है तो उन्हें खत्म कर देता है।

7. आँखों की समस्या में करेला (Bitter Gourd for Eyes)

$_35

करेले में उच्च मात्रा में पाया जाने वाला बेटा-केरोटीन एवं अन्य गुण इसे सबसे ज्यादा गुणकारी शाक-फल (वेजिटेबल-फ्रूट) बनाते है। जो आँखों से जुड़ी समस्या से छूटकारा दिलाते है एवं आखों की रोशनी को बढ़ाता है।

8. चर्म रोग में करेला (Bitter Gourd for Skin Disease)

6ed98fd71283fa9ef555cabc089cb3c2

करेले के रस का नियमित सेवन चर्म रोग एवं अन्य फंगल इन्फेक्शन जैसे दाद एवं पैरों में होने वाले इन्फेक्शन आदि से छुटकारा दिलाने वाला माना गया है।

9. पाचन में करेला (Bitter Gourd for Digestion)

Stomachache

करेला में पाये जाने वाले गुण आंतों की गैस संबंधी समस्या में उपयोगी है। करेले का रस हमारे शरीर में पनपने वाले पेरासिटीक-वर्म को खत्म करता है। करेले में मौजूद तत्व पेट में मौजूद उन विषैले पदार्थों को खत्म कर देता है जो पेट के लिए फायदेमंद बैक्टिरियां को मार देता है इस तरह यह पेट के लिए फायदेमंद बैक्टिरियां को सुरक्षा प्रदान कर पेट से जुड़ी समस्या से निजात दिलाता है।

करेले के रस के नियमित सेवन से यह साबित हुआ है कि यह ऊर्जा एवं शारीरिक ताकत को बढ़ाता है। यहां तक कि सोने के तरीके में भी स्थिरता एवं सुधार नजर आया है। हालांकि आपको हार्ट बर्न एवं अल्सर जैसी परिस्थिति में इसका उपयोग नहीं करना चाहिए।

Source: healthindian

Loading...

कृपया इस महत्वपूर्ण जानकारी को अपने परिवार और मित्रों के साथ ज्यादा से ज्यादा शेयर करें!

Loading...

Next post:

Previous post: