गरम दूध या ठंडा दूध? केसे पियें जो सेहत के लिये हो अच्‍छा

Loading...

गरम दूध या ठंडा दूध? केसे पियें जो सेहत के लिये हो अच्‍छा सेहत के लिये सबसे उत्‍तम पेय पदार्थ है। दूध में कैल्‍शियम, पोटैशियम और विटामिन डी होता है जो ना केवल हड्डियों के लिये ही बल्‍कि पूरी सेहत के लिये बढियां माना जाता है। कई लोगों को दूध पीना पसंद नहीं होता।

वहीं कई लोग दूध को ठंडा और कई लोग गरम पीना पसंद करते हैं। क्‍या आपने कभी सोंचा है कि दोनों में से कौन सा दूध पीना ज्‍यादा बेहतर है? आइये आज इसी विषय पर बात करते हैं…
अगर दूध पीने से पेट खराब होता हो, तो गरम दूध पियें
गरम दूध पीने की एक अच्‍छी बात यह है कि इसे पीने से आपका शरीर इसे आराम से हजम कर सकता है। आप ठंडे दूध को कार्नफ्लेक्‍स या ओट्स के साथ मिला कर पी सकते हैं, लेकिन अगर आपको दूध हजम ना होता हो, तो ठंडा दूध एक बार में पीने से बचें। जब दूध को गरम किया जाता है तो, उसमें मौजूद लैक्‍टोज ब्रेक डाउन हो जाता है, जिससे वह पेट में जाने के बाद डायरिया या पेट नहीं फुलाता।
हल्‍का गरम दूध पीने से नींद अच्‍छी आती है
रात को सोने से पहले हल्‍का गरम दूध पीने से अच्‍छी नींद आती है। दूध में amino acid tryptophan होता है, जो नींद उत्‍प्रेरण रसायनों, सेरोटोनिन और मेलाटोनिन का उत्‍पादन करता है, जिससे आपका दिमाग शांत होता है और नींद अच्‍छी आती है।
ठंडा दूध एसिडिटी को शांत करता है
अगर आपको सीने में जलन और एसिडिटी की समस्‍या है तो, ठंडा दूध पियें। खाना खाने के बाद आधा गिलास ठंडा दूध पी लेने से अत्यधिक एसिड उत्पादन कम हो जाता है और एसिडिटी शांत हो जाती है।

गर्मियों में डिहाइड्रेशन से बचाए ठंडा दूध

गर्मियों में सुबह ठंडा दूध पीने से शरीर में पानी की कमी नहीं होती और डिहाइड्रेशन से छुटकारा मिलता है। पर अगर आपको सर्दी-जुखाम है तो, सुबह ठंडा दूध ना पियें।

Loading...

Source: samaybhaskar

कृपया इस महत्वपूर्ण जानकारी को अपने परिवार और मित्रों  के साथ ज्यादा से ज्यादा शेयर करें!

Loading...

Next post:

Previous post: