ओम मंत्र के जाप से स्वास्थ्य को मिलते है अनगिनत फायदे

Loading...

हमारे हिन्दू धर्म में ॐ शब्द का बहुत महत्व है| इसको सभी मंत्रों का राजा कहा जाता है| ॐ को ‘ओम’ शब्द से उच्चारित किया जाता है| इसे बोलते वक्त ‘ओ’  शब्द पर ज्यादा जोर पढता है| इसे कई लोग प्रणव मंत्र भी कहते है| ॐ ब्रह्मांड की अनाहत ध्वनि है| इस मंत्र का प्रारंभ तो है पर अंत नहीं है|

सभी बीजमंत्र ओम मंत्र से ही उत्पन्न हुए हैं। इसलिए इस मंत्र को सभी मंत्र, ध्वनियों एवं शब्दों की जननी कहा जाता है। ओम शब्द अ, उ और म से मिलकर बना है। जो लोग ओम शब्द का नियमित उच्चारण करते है उनके शरीर में मौजूद आत्मा जागृत हो जाती है इससे शारारिक और मानसिक तनाव से भी मुक्ति मिलती है|

इसलिए ओम मंत्र से मिलने वाले लाभो को केवल धर्म गुरू ही नहीं बल्कि विज्ञानं भी मानता है। रिसर्च एंड इंस्टीट्‌यूट ऑफ न्यूरो साइंस के प्रमुख प्रोफ़ेसर जे. मार्गन ने उनके सहयोगियों के साथ मिलकर तक़रीबन सात वर्षो तक ‘ओम’ मंत्र के प्रभावों पर अध्ययन किया था| इस अध्ययन में पाया गया की मात्र ओम मंत्र का उच्चारण करने से शरीर में मौजूद कई मृत कोशिकाएं पुनः जीवित होती है|

इससे हृदय रोग और मस्तिष्क रोग से ग्रसित लोगो को बहुत लाभ मिलता है| यह गंभीर से गंभीर रोंगों में भी बड़ा लाभप्रद है। आइये जानते है Health Benefits of Chanting Om ओम मंत्र से मिलने वाले और भी कई लाभो के बारे में|

Health Benefits of Chanting Om – जाने ओम मंत्र से होने वाले लाभ 

Health Benefits of Chanting Om

ओ३म् मंत्र के उच्चारण से आध्यात्मिक लाभ मिलता है जैसे की ओम मंत्र का जप करने से मनुष्य ईश्वर के करीब पहुंचता है| और लगातार इसका अभ्यास करते रहने से ईश्वर का अनुभव करने की ताकत पैदा होती है।

ओम मंत्र से परिचित होने के बाद व्यक्ति दुनिया में दौड़ने के लिए नहीं दौड़ता बल्कि अपने लक्ष्य प्राप्ति के लिए दौड़ता है। इसके जप से मन में आने वाले अनजाने भय खत्म होते है और व्यक्ति में साहस और उत्साह बढ़ता है| इसके अभ्यास से मृत्यु का डर भी इंसान के अंदर से खत्म हो जाता है| आध्यात्मिक लाभो के अतिरिक्त इसे करने से कई शारारिक और मानिसक लाभ भी मिलते है।

ओम मंत्र के शारीरिक लाभ

  1. इससे ख़ून का प्रवाह सुचारू रहता है और हृदय स्वस्थ रहता है|
  2. एड्स की बीमारी में भी इसे करना फायदेमंद होता है।
  3. इसका जब करने से बांझपन की समस्या से निजाद मिलती है|
  4. ओम मंत्र के उच्चारण से पाचन शक्ति सुधरती है| इससे शरीर भी तनाव रहित हो जाता है।
  5. इसका अभ्यास कुछ विशेष तरह के प्राणायाम के साथ करने पर फेफड़ो में मजबूती आती है|
  6. Om Mantra Meditation करने से शरीर में स्फूर्ति का संचार होता है, थकान से बचाने के लिए यह सबसे अच्छा विकल्प है|
  7. ओम के दूसरे शब्द का उच्चारण करने से गले में कंपन पैदा होती है| जो की थाइरीड ग्रंथि पर प्रभाव  डालती है|
  8. तनाव से मुक्ति पाने के लिए भी यह फायदेमंद है| यह शरीर के विषैले तत्त्वों को दूर कर तनाव के कारण पैदा होने वाले द्रव्यों पर नियंत्रण करता है।
  9. जिन लोगो को नींद ना आने की समस्या होती है उनके लिए भी यह फायदेमंद है| जब आपको नींद नहीं आ रही हो तो मन में इसका उच्चारण करे आपको निश्चित नींद आएगी|

ओम मंत्र के मानसिक लाभ

  1. जीवन का लक्ष्य समझने में मदद मिलती है| जीवन जीने का उद्देश्य पता चलता है|
  2. इसका अभ्यास करने से गंभीर रूप से मानसिक रूप से ग्रसित व्यक्ति को भी लाभ पहुँचता है|
  3. व्यव्हार में नम्रता आती है| अच्छे व्यवहार से दूसरों के साथ सम्बन्ध उत्तम होते हैं। शत्रु भी मित्र बनने लगते है|
  4. प्रकृति के साथ बेहतर तालमेल बनने लगता है| आने वाले विकट परिस्थितियों को पहले ही भांपने की शक्ति आती है।
  5. इसे करने से नकारात्मक विचार खत्म हो जाते है| व्यक्ति साहसी बनता है और उसे दुनिया की चुनौतियों का सामना करने की शक्ति मिलती है|
  6. जीवन में किसी भी प्रकार का भय नहीं रहता है| Chanting of Om करने वाला व्यक्ति सुख और जोश से अपना जीवन व्यतीत करता है| यहाँ तक वो मृत्यु को भी ईश्वर की व्यवस्था समझ कर हँस कर स्वीकार करता है।
  7. ओम मंत्र का अभ्यास करने पर निराशा दूर होती है और गुस्से पर नियंत्रण करने की शक्ति बढ़ती है|
  8. इसका जब करने वालो में आत्महत्या जैसे कायरता के विचार आस पास भी नहीं फटकते। जिन लोगो के मन में आत्महत्या करने जैसा कोई विचार हो तो इसे करने से वो दूर हो जाता है|

ओम का अभ्यास करने की विधि

रोज सुबह उठकर स्नान करकर ओम मंत्र का अभ्यास करना चाहिए| इस मंत्र का अभ्यास सुखासन,पद्मासन, अर्धपद्मासन, वज्रासन आदि में बैठकर कर सकते हैं। इसका उच्चारण आप समय अनुसार जैसे की 5, 7 या फिर 21 बार भी कर सकते है| ॐ जप माला की मदद से भी किया जा सकता है| ॐ शब्द को जोर से या फिर धीरे-धीरे भी बोल सकते है|

ओम के अभ्यास से शरीर और मन को एकाग्र होने में मदद मिलती है। इससे मानसिक बीमारियाँ दूर होती हैं। रक्तसंचार और दिल की धड़कन व्यवस्थित होती है| इस मंत्र के जाप करने वाले और इसे सुनने वाले दोनों को ही लाभ मिलता है| यदि आप किसी कारणवश अपने जीवन से परेशान हो चुके है| तो कुछ दिन ओम के उच्चारण का अभ्यास कीजिये| Health Benefits of Chanting Om कई है इससे अभ्यास से आपको 4-5 दिन में ही परिवर्तन नजर आने लगेगा|

Source: hrelate

Loading...

कृपया इस महत्वपूर्ण जानकारी को अपने परिवार और मित्रों  के साथ ज्यादा से ज्यादा शेयर करें!

Loading...

Next post:

Previous post: