मसूड़ों से खून क्यों आता है?

Loading...

सुबह सुबह दांत साफ़ करते वक़्त आपने पाया कि फोम के साथ साथ आपने खून भी थूका। कुछ समय बाद खाते समय भी मसूड़ों से खून निकला और फिर सिलसिला बन गया। अगर आप सोच रहे हैं कि ऐसा क्यों होता है, तो यहाँ 10 कारण दिए जा रहे है:

Gum Bleeding ke Karan in Hindi

1. मुंह की उचित स्व्च्छता नहीं हो रही 

जब दांत सही प्रकार से साफ़ नहीं रखे जाते हैं तो मसूड़े फूल जाते हैं और उनमें से खून निकलता है। बहुत से लोग ढंग से ब्रश नहीं करते जिससे दांतों पर प्लाक और टार्टर बनता है। मसूड़ों में सूजन आ जाती है,लाल हो जाते हैं और उनमें दर्द होता है। इसी वजह से ज़रा सा कुछ भी लगने पर मसूड़ों से खून निकलता है। 

2. टेढ़े-मेढ़े दांत

टेढ़े-मेढ़े दांतों को साफ़ करना मुश्किल होता है और साफ़ करते समय मसूड़ों में से खून आने लगता है। टेढ़े-मेढ़े दांतों में अक्सर भोजन फंस जाता है जिससे मसूड़े सूजते हैं और खून बहता है।

 

3. मसूड़ों पर घाव

कड़क दांतों वाले ब्रश के इस्तेमाल से मसूड़ों पर घाव हो जाते हैं। इसलिए नर्म टूथ ब्रश का इस्तेमाल करना चाहिए और हर 3 महीने में ब्रश बदलना चाहिए।

 

4. Vitamin C की कमी

विटामिन ”सी” की कमी होती है जब हम अपने भोजन में सही मात्रा में फल और सब्जियों को शामिल नहीं करते। मसूड़े फूल जाते हैं और उनमें से खून निकलता है।

 

5. Vitamin K की कमी

ये विटामिन हमारे खून में थक्के बनाने का काम करता है। जब विटामिन “K” की कमी होती है मसूड़ों समेत शरीर के किसी भी हिस्से से खून बहने की प्रवृत्ति बढ़ जाती है।

 

6. महिलाओं में हार्मोनल चेंजेस

प्युबर्टी के समय, प्रेगनेंसी में और मेनोपोज़ के बाद महिलाओं में बहुत हार्मोनल चेंजेस होते हैं। ये बदलाव पीरियड्स के दौरान और ओरल कॉण्ट्रासेप्टिव पिल्स की  वजह से भी होते हैं। हारमोंस के बदलाव की वजह से मसूड़ों से खून निकलता है और यह बात डेंटिस्ट द्वारा प्रमाणित है।

 

7. ब्लीडिंग डिसऑर्डर्स

ब्लीडिंग डिसऑर्डर्स तो एक सिलसिला है- वांशिक और अज्ञात जो ब्लीडिंग की आम प्रवृत्ति को बढ़ाते हैं। ये सर्वप्रथम मसूड़ों से प्रकट होते हैं इसलिए इन्हें नज़रंदाज़ नहीं करना चाहिए क्योंकि हो सकता है कि यह किसी गंभीर समस्या की ओर इशारा कर रहे हों।

 

8. दवाइयां

बहुत ही आम बात हो चुकी है कि आजकल लोग किसी न किसी बीमारी से पीड़ित रहते हैं और लगातार दवाएं खानी पड़ती हैं। कुछ दवाएं जैसे एस्प्रिन, क्लोपीडोगरेल जो हार्ट अटैक वाले मरीजों को दी जाती है, मिर्गी की दवा, कैंसर कीमोथेरेपी की दवा, इन सबसे भी मसूड़ों से खून आ सकता है।

 

9. लिवर की तकलीफ

लिवर वो मुख्य अंग है जो ऐसे तत्व बनाता है जो खून के थक्के ज़माने में मदद करते हैं। किसी भी प्रकार की लिवर सम्बंधित तकलीफ या अत्यधिक शराब का सेवन जो कि लिवर के मेटाबोलिज्म को असंतुलित करता है, इन सबसे भी मसूड़ों से खून निकल सकता है।

 

10. कैंसर

बोन मेरो कैंसर या ब्लड कैंसर से भी मसूड़ों से खून बह सकता है।

उपरोक्त दिए कारणों के अलावा और भी कारण हैं जो मसूड़ों से बहते खून के लिए ज़िम्मेदार हो सकते हैं जैसे तम्बाखू का सेवन, तनाव, रेडिएशन थेरेपी, ऍच.आई.वी. इत्यादि जिनसे मसूड़ों में इन्फेक्शन हो जाता है।

Source: healthindian

Loading...

कृपया इस महत्वपूर्ण जानकारी को अपने परिवार और मित्रों  के साथ ज्यादा से ज्यादा शेयर करें!

Loading...

Next post:

Previous post: