घर पर कैसे उगाएं हरी मिर्च ?

Loading...

कृषि ने ही लोगों को नदी के किनारे बसने के लिए प्रोत्साहित किया. मनुष्य के इतिहास से पता चलता है कि शुरुआती सभ्यता कृषि से ही पनपी. आज हम उस दौर से काफी आगे आ चुके हैं. आज हम शहरों में आ बसे हैं, जहां गगनचुंबी इमारतें हैं और ट्रेफिक का शोर है.

घर पर कैसे उगाएं हरी मिर्च

पर हम अकसर गांवों में जाना पसंद करते हैं जहां चारों ओर हरियाली होती है और फिजाओं में एक खुशबू होती है. करारी और चटपटी फ्राई हरी मिर्चें

हरी मिर्च व्यंजन को मसालेदार बनाने का काम करती है और भारत जैसे मिर्च—मसालों के देश में इसका अपना महत्व है. आज हम आपको हरी मिर्च उगाने के कुछ टिप्स के बारे में बताएंगे.

गर्म जलवायु : गर्म ट्रापिकल जलवायु हरी मिर्च के लिए सबसे उपयुक्त जलवायु होती है. अगर आप ऐसे जलवायु में नहीं रहते हैं तो अच्छे परिणाम के लिए आपको इंडोर या फिर ग्रीन हाउस का सहारा लेना पड़ेगा.

सूरज की रोशनी : हरी मिर्च के पौधों को गर्मी पर्याप्त मात्रा में चाहिए होती है. इसलिए हरी मिर्च का पौधा लगाते समय इस बात का विशेष ध्यान रखें कि उन्हें सूरज की पूरी—पूरी रोशनी मिले. पौधे ऐसी जगहों पर बिल्कुल न लगाएं जहां रात का तापमान 15 डिसे से नीचे चला जाता हो.

मिट्टी : मिर्च के पौधे को उर्वर मिट्टी में लगाएं. अगर आप गमले में पौधे को लगा रहे हैं तो आर्गेनिक कम्पोस्ट का इस्तेमाल जरूर करें.

बुवाई : मिर्च के बीज को जमीन में कम से कम 3 इंच नीचे डालने की जरूरत होती है. जब पौधे जमीन से बाहर आ जाए तो आप इसे यहां से हटाकर गमले या फिर किसी उपयुक्त जमीन पर लगा दें.

पानी देना : मिर्च उगाने के दौरान पौधों को नियमित रूप से पानी दें. पर ध्यान रखें कि ज्यादा पानी घातक हो सकता है. पौधों में ठंडक आ जाने से आपको अपेक्षित परिणाम नहीं मिलेगा.

कीटनाशक : मिर्च उगाने के दौरान आपको बीमारी से छुटकारा पाने के लिए किसी तरह के फर्टिलाइजर के इस्तेमाल का झंझट पालने की जरूरत नहीं है. हरी मिर्च में ऐसे रसायन पाए जाते हैं जो बीमारी को दूर रखते हैं.

Source: palpalindia

Loading...

कृपया इस महत्वपूर्ण जानकारी को अपने परिवार और मित्रों  के साथ ज्यादा से ज्यादा शेयर करें!

Loading...

Next post:

Previous post: