महिलाओं के लिए बहुत ‘दिल’दार है ये केला, रोज करें सेवन

Loading...

bananaअमूमन महिलाएं केले के सेवन से परहेज करती हैं। उन्‍हें लगता है कि इससे उनका वजन बढ़ा जाएगा। लेकिन, आपकी ये धारणा पूरी तरह गलत है। अगर आप तरीके से रोजाना तीन केलों का सेवन करती हैं तो आप कई बीमारियों से छुटकारा पा सकती हैं। साथ ही आपका दिल भी दिलदार रहेगा। क्‍योंकि केले के भीतर जो खूबियां होती हैं वो आपके पूरे शरीर के साथ-साथ आपके दिल को भी पूरी तरह स्‍वस्‍थ्‍य रख सकता है। बस जरुरत है इसके नियमित सेवन की।

केले की खूबियां ऐसी हैं कि वो अपनी उम्र को भी बढ़ा सकती हैं। कैसे जरा ये भी समझ लीजिए। एक  केले के भीतर 3.1 ग्राम फाइबर होता है। 1.3 ग्राम प्रोटीन होता है। 422 मिली ग्राम पोटेशियम की मात्रा होती है। फाइबर, प्रोटीन और पोटेशियम तीनों ही चीजें एक स्‍वस्‍थ्‍य शरीर के लिए बहुत जरुरी होती हैं। कई फूड सप्‍लीमेंट में ये तीनों चीजे एक साथ नहीं मिलती हैं। लेकिन, केला ऐसा फल है जिसमें फाइबर भी है। प्रोटीन भी है और पोटेशियम भी है। जो दिल को पूरी तरह स्‍वस्‍थ्‍य रखता है।

Loading...

रोजाना तीन केले खाने से ना सिर्फ दिल के दौरे का खतरा कम होता है। बल्कि दिल से जुड़ी दूसरी बीमारियों से भी छुटकारा पाया जा सकता है। केले में विटिमिन बी सिक्‍स भी होता है। जो खून में ग्‍लूकोज की मात्रा को नियंत्रित करता है। पीरियड्स के दिनों में केला महिलाओं के लिए सबसे लाभदायक फल है। इसके सेवन से ना सिर्फ उन दिनों में दर्द से आराम मिलता है। बल्कि केला मूड में हो रहे बदलाव को भी कंट्रोल करता है। जिन महिलाअों को ब्‍लड प्रेशर की शिकायत है वो भी केले का इस्‍तेमाल कर इस पर काबू पा सकती हैं।

दरअसल केले में पोटेशियम ज्यादा मात्रा में होता है और सोडियम कम मात्रा में। पूरे दिन में शरीर को 1300 मिली ग्राम पोटेशियम की आवश्‍यकता होती है। जिन्‍हें सिर्फ तीन केलों को खाकर पूरा किया जा सकता है। केले से शरीर को भरपूर मात्रा में मैग्‍नीशियम भी मिलता है। जिससे नींद आसानी से आती है। चिड़चिड़ापन कम होता है। मूड अच्‍छा रहता है। शरीर में थकान नहीं रहती है। जिन महिलाओं या लड़कियों के शरीर में खून की कमी होती है यानी अगर वो एनीमिक हैं तो केल शरीर में आयरन की कमी को भी दूर करता है।
कृपया इस महत्वपूर्ण जानकारी को अपने परिवार और मित्रों के साथ ज्यादा से ज्यादा शेयर करें!

Loading...

Next post:

Previous post: