खाना टेस्टी नहीं, पौष्टिक होना चाहिए

Loading...

फिल्मों में अपने सीरियस रोल से पहचाने जानेवाले राजीव खंडेलवाल अपनी सेहत को भी बहुत गंभीरता से लेते हैं. चार्मिंग एक्टर राजीव बताते हैं कि अगर आप खुद को प्यार करते हैं, तो खुद को फिट रखने के लिए मेहनत करनी ही पड़ेगी. अपनी नयी फिल्म फीवर को लेकर वे इन दिनों चर्चा में बने हुए हैं.

एक नजर राजीव के फिटनेस और डायट पर.
मैं सुबह-सवेरे उठना पसंद करता हूं और सुबह ही वर्कआउट करना अच्छा लगता है. जब हम रोज खाना-पीना, सोना नहीं भूलते, तो वर्कआउट करना कैसे मिस कर सकते हैं. मैं जिम में एक घंटा एक्सरसाइज करता हूं. शुरू से अपने फिटनेस का पूरा ख्याल रखता आया हूं. इस दौरान मैं मसक्यूलर एक्सरसाइज के बजाय कार्डियो एक्सरसाइज पर ज्यादा ध्यान देता हूं. हेवी वेट ट्रेनिंग नहीं करता. हां, कभी-कभी शूटिंग हेक्टिक होने की वजह से जिम नहीं जा पाता, लेकिन विकल्प के तौर परकुछ न कुछ फिजिकल एक्सरसाइज जरूर करता हूं.
कुछ नहीं तो बिल्डिंग की सीढ़ियां ही चढ़-उतर लेता हूं. जिम के अलावा मुझे योग भी फिट रखने में बहुत हेल्प करता है. यह मेरे माइंड को बिल्कुल रिलैक्स कर देता है. जब भी मुझे मौका मिलता है, मैं साइकिलिंग पर निकल जाता हूं. एडवेंचर्स भी पसंद हैं. हर साल लद्दाख बाय रोड अपनी कार से जाता हूं. वहां ट्रैकिंग करना अच्छा लगता है. स्पोर्ट्स पर्सन रहा हूं, इसलिए टेनिस और स्विमिंग से अब भी जुड़ा हूं. स्कूल-कॉलेज के दिनों से ही मैं खेलकूद में एक्टिव रहा हूं. इसलिए सिर्फ जिम पर निर्भर नहीं रहता. इतना कुछ हॉबी के नाम पर मुझसे जुड़ा है कि वह सब मुझे फिट रखने में काफी हैं. स्कूल के दिनों में तो जिमनैस्टिक भी किया करता था.
ग्रीन वेजिटेबल है पसंद
छोटी उम्र से ही पौष्टिक आहार का महत्व मैं जान गया था. यही वजह है कि मेरी थाली में टेस्टी से ज़्यादा पौष्टिक खाना होता है. मैं शाकाहारी हूं. मेरे दिन की शुरुआत ऑरेंज जूस से होती है. मैं चाय-कॉफी तो बिल्कुल नहीं लेता. हां, हर्बल टी पीता हूं. ब्रेकफास्ट में अंडे की सफेदी का बना ऑमलेट, दूध के साथ कॉर्नफ्लैक्स और स्प्राउट लेता हूं. लंच में सलाद और सब्जियां लेता हूं. मैं चावल खाना पसंद नहीं करता, इसलिए चावल से दूर ही रहता हूं. मुझे जंक फूड्स् और कोल्ड ड्रिंक्स से भी कोई लगाव नहीं है. हां, समोसा पसंद है.
ब्रेक में कभी-कभी खा लेता हूं, लेकिन हमेशा नहीं. जानता हूं कि यह हेल्दी नहीं, इसलिए खुद पर कंट्रोल रखना पड़ता है. डिनर की बात करूं, तो प्राय: रोटी, हरी सब्जी और सलाद लेता है. हरी सब्जियां मेरे डायट का सबसे अहम हिस्सा हैं. उनमें भी ऎसी सब्ज़ियां, जिनमें पानी की मात्रा ज्यादा हो. मैं डिनर जल्दी करता हूं. सभी को सोने से तीन-चार घंटे पहले डिनर जरूर कर लेना चाहिए. यह सबसे अहम है कि जब आप सोये, तो आपके पाचन को भी आराम मिले. लंच और डिनर के बीच मुझे जब भी भूख लगती है, मैं हाइ प्रोटीन बिस्किट या ड्राय फ्रूट ले लेता हूं.
Source: prabhatkhabar
कृपया इस महत्वपूर्ण जानकारी को अपने परिवार और मित्रों  के साथ ज्यादा से ज्यादा शेयर करें!

Loading...

Next post:

Previous post: