‘फूड फॉर आल’ – अमीरों का निवाला गरीबों तक पहुंचा रहा है इमरान

Loading...

कई क्षेत्रों में रोटी बैंक की शुरुआत हुई है। लेकिन शहर के युवाओं ने इससे आगे बढ़कर गरीबों को भोजन देने की एक नई पहल की है। यह भोजन भी ऐसा जो अमीरों की प्लेट में ही नजर आता है। शहर में ‘फूड फॉर आल’ नाम की संस्था शादियों व अन्य कार्यक्रमों में बचने वाले खाने को गरीबों तक पहुंचा रही है। खाना बांटने से पहले उसे साइंटिफिक तरीके से सुरक्षित कर डाक्टरों की जांच के बाद पैक कर गरीबों को पहुंचाया जाता है।फूड फॉर आल

फूड फॉर आल चलाता है इमरान

‘फूड फॉर आल’ संस्था चलाने वाले मो. इमरान ने बताया कि मात्र दो माह पहले ही इस कार्य की शुरुआत की गई है। इतने समय में 700 परिवारों और करीब साढ़े तीन हजार लोगों को खाना पहुंचाया जा चुका है। इस खाने में वेज व नॉनवेज भी होता है। उन्होंने बताया कि गरीब बस्तियों का सर्वे कराकर यह मालूम किया कि कहां वेज और कहां नॉनवेज खाया जाता है। साथ ही बस्तियों में परिवारों के बारे में भी जानकारी हासिल की है। जिससे खाने की मात्रा के हिसाब से बस्तियों का चयन किया जाता है। फिर खाना पहुंचाया जाता है। बांटते समय कोई समस्या न हो इसके लिए संस्था के सदस्य दो घण्टे पहले बस्ती में जाकर कूपन बांटते हैं। जिसके बाद लोग लाइन में लगकर भोजन लेते हैं।

महंगा होता है खाना

‘फूड फॉर आल’ के इमरान ने बताया कि वह लोग कैटर्स से सम्पर्क में रहते हैं। जो शादी व कार्यक्रमों की जानकारी देते हैं। इसके बाद आयोजकों से बचने वाले खाने को लेकर बात की जाती है। यदि आयोजक तैयार हो जाते हैं तो फिर बचने वाले खाने को मंगवाकर उसे फ्रीजर में संरक्षित किया जाता है। इसके बाद उस खाने की जांच कराई जाती है। उन्होंने बताया कि ज्यादातर खाना लग्जरी पार्टियों का होता है। जिसमे एक थाली की कीमत कई हजार तक होती है। इस दौरान संस्था द्वारा बचा खाना देने वाले आयोजको को प्रशंसा पत्र भी दिया जाता है।

पांच लोग चला रहे फूड फॉर आल संस्था

गरीबों को लग्जरी भोजन उपलब्ध कराने वाली इस संस्था में केवल पांच लोग मिलकर काम कर रहे हैं। वहीँ क्षेत्र की छह बस्तियों में यह खाना पहुंचाने का कार्य किया जा रहा है।

Source: puridunia

Loading...

कृपया इस महत्वपूर्ण जानकारी को अपने परिवार और मित्रों के साथ ज्यादा से ज्यादा शेयर करें!

Loading...

Next post:

Previous post: