आपके बिस्तर में छिपा है गन्दगी का भण्डार

Loading...

आपके बिस्तर में छिपा है गन्दगी का भण्डार

एक इंसान औसतन रोज का आठ घंटा बेड पर बीतता है. यह हमारी जिंदगी का लगभग एक तिहाई वक़्त होता है. क्या आप जानते है आपके बिस्तर व चादर में क्या क्या होता है? फंगी, बैक्टीरया, मरे हुए छोटे छोटे जीव, धूल, पसीना, पेशाब के अंश, स्किन सेल्स, लार, खाने पीने की चीजों के महीन टुकड़े, जिस चीज से चादर बनती है उसके रेशे, क्रीम, तेल और ना जाने क्या क्या.

इसके अलावा भी हमारी बेडशीट में बहुत कुछ ऐसा होता है जो छोटे छोटे जीवों को पैदा करने के लिए बिल्कुल वाजिब माहौल पैदा करते हैं. आपको लगता है कि आप तो खुद को बहुत साफ सुथरा रखते हैं मगर ऐसा नहीं है. बहुत सी ऐसी जगह हैं जो आपकी हेल्थ पर बुरा असर डालती हैं और आपको पता भी नहीं चलता. आप बिस्तर से उठते हैं और आपको एलर्जी हो जाती है या आपको जुकाम हो जाता है. आप मौसम को दोष दे रहे होतें हैं मगर उसका कारण कई बार आपका बिस्तर ही होता है.

एक शख्स आमतौर पर एक साल में करीब 99 लीटर पसीना बिस्तर में छोड़ता है. हमारा पसीना गंदगी के साथ चादर में समा जाता है. गंदगी और नमी वाला माहौल फंगस को पैदा करने के लिए माकूल माहौल देता है. धूल, फंगस और बैक्टीरिया आपको बीमार बनाने के लिए काफी होते हैं. इनसे अस्थमा भी बढ़ सकता है. इसलिए अपने बिस्टेर की चादर और तकिए की खोल को कम से कम हफ्ते में एक बार जरूर धोए.

Source: newstracklive

Loading...

कृपया इस महत्वपूर्ण जानकारी को अपने परिवार और मित्रों  के साथ ज्यादा से ज्यादा शेयर करें!

Loading...

Next post:

Previous post: