अमरुद (जाम) खाने के इतने फायदे नहीं जानते होंगे आप

Loading...

सर्दियों के मौसम में कई फलो की बहार रहती है| इस मौसम में अमरुद भी बहुत देखने को मिलते है| यह एक ऐसा फल है जो बच्चो और बड़ो सभी को पसंद आता है| इसका स्वाद मीठा होता है| इस फल के कई नाम है, जैसे कुछ लोग इसे जामफल बोलते है| वही संस्कृत में इसका नाम अमृतफल और अमरुद है| क्या आप जानते है जाम का फल स्वाद के साथ-साथ सेहतमंद गुणों से भी भरपूर है| दरहसल इस फल के सेवन के ढेरो फायदे है।

अमरुद की सबसे ज्यादा पैदावार भारत में ही होती है| इसका रंग बाहर से हरा और अंदर से सफ़ेद होता है| वही कुछ जामफल अंदर से लाल रंग के भी होते है| कुछ लोग इसे हल्का कच्चा खाना पसंद करते है| वही कुछ लोगो को पका हुआ जाम पसंद आता है| हम आपको बताना चाहते है की इसके दोनों ही रूप फायदेमंद है|

और सर्दियों में तो जाम खाने के फायदे ही फायदे हैं। दांत के रोगों के लिए इसका सेवन फायदेमंद होता है। आप शायद नहीं जानते होंगे लेकिन इसके पत्तों को चबाने से दांतों के कीड़ा और दांतों से संबंधित रोगो से निजाद मिलती है| इसके अलावा भी ये कई औषधीय गुणो के लिए जाना जाता है

इस फल की खासियत यह है की यह बहुत सस्ते में मिल जाता है| लेकिन बहुत कम लोग जानते है की इस सस्ते फल में कितने सारे गुण और फायदे भरे हुए है। आज हम आपको इससे अवगत कराएँगे ताकि आप इन्हे जाने और अपने शरीर को जाम के सेवन से स्वस्थ रख पाये। तो आइये देखे Benefits of Guava in Hindi.

Benefits of Guava in Hindi: जाम खाने के फायदे

Benefits of Guava in Hindi

पेट दर्द से निजाद

पका हुआ जाम आपकी पाचन सम्बंधित समस्याओ को दूर करता है| इसे खाने से पेट की परेशानिया कम होती है। यदि किसी का पेट गैस की वजह से दुख रहा हो तो जाम के सेवन से वो ठीक हो जाता है| इससे पेट पूरी तरह से साफ़ रहता है। अगर जाम में काला नमक लगा कर रोज खाया जाये तो इससे गैस और कब्ज की समस्या नहीं होती है|

मोटापा कम करे

इस स्वादिष्ट फल का सेवन करके आप अपने बढ़ते वजन को भी काबू में कर सकते है| इसलिए जो लोग अपना मोटापा कम करना चाहते है वो लोग इस फल का सेवन जरूर करे| आप इसे सलाद के रूप में भी खा सकते है| और चाहे तो इसकी चटनी या सब्जी बनाकर भी खा सकते है|

गोरी त्वचा के लिए

आप अपनी खूबसूरती को और ज्यादा निखारना चाहते है, तो आज से ही गुलाबी अमरुद को खाना शुरू कर दे| दरहसल इसमें ल्य्कोपेने पाया जाता है, जो धुप की किरणों से आपकी त्वचा को बचाने में मदद करता है| सिर्फ यही नहीं इससे स्किन कैंसर होने का खतरा भी काफी हद तक टल जाता है|

डायबिटीज में राहत

जाम के सेवन से शरीर की कई बड़ी परेशानियों में लाभ मिलता है| जाम मधुमेह के रोगियों के लिए भी फायदेमंद है| यदि आप रोजाना जाम का सेवन करते है तो इससे आपका शुगर का स्तर नियंत्रित रहता है। इसमें मौजूद फाइबर आपके शरीर में मौजूद शकर को पचाने में मदद करता है|

नेत्रों की ज्योति बढ़ाये

Guava Health Benefits आँखों के लिए भी है| अमरुद खाने से आप आँखों की हर समस्या को दूर कर सकते है, इसके लिए अमरुद के पत्तो की पोटली बनाकर रात को सोते समय आँख पर बांधने से आँखों का दर्द ठीक हो जाता है। इससे न केवल दर्द में राहत मिलती है, बल्कि आँखों की सूजन, आँखे लाल होना, आँखों से आसु निकलना भी दूर हो जाता है।

खांसी में लाभप्रद

कफयुक्त और काली खांसी में जाम के सेवन से आराम मिलता है। यदि आपको सुखी खांसी हो रही है तो अमरुद को सेंककर खाने से लाभ मिलता है| और यदि कफ सम्भंदित परेशानी है, तो अमरुद में नमक या कालीमिर्च लगाकर सेवन करने से भी आपको कफ को बहार निकालने में मदद मिलेगी|

जाम से होने वाले अन्य लाभ:

  1. अमरुद का सेवन नशे की लत को दूर करने में सहायक है|
  2. अमरुद फेफड़ो को स्वस्थ रखने में मदद करता है|
  3. अमरुद त्वचा की फुंसियों को कम करता है।
  4. ये दमा के रोगियों को फायदा पहुँचाता है|
  5. अमरुद के पत्तो से मुँह के छालों में राहत मिलती है।
  6. अमरुद खाने से हाई ब्लड प्रेशर सामान्य हो जाता है|
  7. आँखों में रोशनी के साथ जलन को भी करने में भी इसका सेवन सहायक है।
  8. ये शरीर में खून के बहाव को ठीक रखता है जिससे ह्रदय स्वस्थ रहता है।
  9. अमरुद से आप अपने बढ़ते वजन की चर्बी को भी कम कर सकते है।
  10. अमरुद खाने से पेट की बदहजमी की समस्या ठीक हो जाती है। ये कब्ज को भी ठीक कर देता है।
  11. अमरुद में अधिक मात्रा में विटामिन C पाया जाता है जो की शरीर के प्रतिरक्षा तन्त्र को मजबूत बनाता है जिससे हमें सर्दी, खांसी, जुकाम जैसे बीमारियाँ होने का खतरा नहीं रेहता है।

ऊपर आपने जाना Benefits of Guava in Hindi. आप भी इसका सेवन करकर अपने स्वास्थ्य को बेहतर बना सकते है|

Source: hrelate

Loading...

कृपया इस महत्वपूर्ण जानकारी को अपने परिवार और मित्रों  के साथ ज्यादा से ज्यादा शेयर करें!

Loading...

Next post:

Previous post: