एलोवेरा जूस बनाने की विधि

Loading...

एलोवेरा एक अत्यंत उपयोगी पौधा है, जिसे ग्वारपाठा, क्वारगंदल, घृतकुमारी, कुमारी, घी-ग्वारएलोवेरा के नामों से भी जाना जाता है। इसका रस शरीर की प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाता है, कोलेस्ट्राल कम करता है तथा रक्त में शर्करा की मात्रा को नियंत्रित करता है।
बाजार में एलोवेरा जूस बहुत अधिक दामों पर मिलता है, जबकि आप घर पर इसका जूस आसानी से निकाल सकते हैं।

एलोवेरा जूस बनाने की विधि:
सबसे पहले एलोवेरा की ताजा पत्तियां (आवश्यकतानुसार) ले कर पत्तियों को अच्छी तरह से धो लें। उसके बाद चाकू से उसके किनारे के कांटे वाले भाग काट कर निकाल दें। अब पत्तियों को सुविधानुसार छोटे-छोटे पीस में बांट लें। फिर पत्तियों के टुकडे लेकर उसके ऊपर का हरा वाला छिलका निकाल कर अलग कर दें। ध्यान रहे ऐसा करते समय पत्तियों के गूदे के ऊपर की पीले रंग की पर्त भी साथ में निकाल दें, नहीं तो जूस में कड़वाहट रह जाएगी और आप उसका सेवन नहीं कर सकेंगे।

एलोवेरा के सफेद भाग को अलग करने के बाद उसे मिक्सी में डालें और दो मिनट के लिए मिक्सी को चला दें। इससे एलोवेरा की पत्तियों का जेल जूस में बदल जाएगा। अब इसे गिलास में निकालें और इसमें उचित मात्रा में पानी और नमक मिला लें। यदि आप चाहें, तो इसमें फलों का जूस भी मिला सकते हैं। इससे एलोवेरा जूस स्वादिष्ट हो जाएगा और आपको पीने में दिक्कत नहीं होगी।
उपयोग
इसका जेल जली हुई त्वचा में लगाने पर आराम मिलता है। यह बालों में कंडीशनर के रूप में, त्वचा में निखार लाने, त्वचा के दाग-धब्बे मिटाने, कील-मुंहासे दूर करने, फटी एडियों को ठीक करने तथा कब्ज निवारक औषधि के रूप में भी उपयोग में लाया जाता है।
Source: hitonwhatsup
कृपया इस महत्वपूर्ण जानकारी को अपने परिवार और मित्रों के साथ ज्यादा से ज्यादा शेयर करें!

Loading...

Next post:

Previous post: