किडनी प्रत्यारोपण से बचने के लिए गौर करें इन 4 लक्षणों पर

Loading...

6c1885e9ceb1f67bb79e6bc4a0b80e03

हमारे देश भारत में 75 % लोग ऐसे हैं जिन्हें कोई खतरनाक बीमारी होने के बाद ही उसका पता चलता है। जैसे किडनी के खराब होने या फिर किसी तरह के रोग का बाद में ही पता चल पाता है। किडनी से जुड़ी परेशानी आज-कल काफी लोगों को हो रही है। किडनी प्रत्यारोपण से बचने के लिए इन लक्षणों को अच्छे से नोटिस करने की जरूरत है।

किडनी से जुड़े रोग के लक्षण-

शरीर में हिस्सों में सूजन, भूख कम लगना, यूरीन का कम होना, शरीर में खून की कमी और कमजोरी इसके मुख्य लक्षण हैं।

किन टेस्ट से पता लगती है किडनी से जुड़ी बीमारी-

किडनी खराब होने के अधिकतर लक्षण इस हिस्से के खराब होने से ही लगते हैं। किडनी के रोग की अगर आप जांच कराना चाहते हैं तो ब्लड यूरिया, यूरिन संबंधी जांचें आदि से पता चल जाता है।

kdnyIMAGE SOURCE :HTTPS://S3.AMAZONAWS.COM/

डायबिटीज और किडनी से जुड़ी बीमारियों में अंतर-

खराब खानपान और जीवनशैली के कारण कई तरह के रोग हो जाते हैं। इन में डायबिटीज सबसे ज्यादा खास है। डायबिटीज शरीर के सभी हिस्सों को काफी प्रभाव डालती है। इनमें किडनी और दिल के रोग मुख्य हैं। लगभग 30 से 35 % डायबिटीज के मरीज खराब किडनी से जुझते हैं या यू कहें कि किडनी को प्रभावित करते हैं।

किडनी को डायबिटीज कैसे क्षति पहुंचाती है-

Loading...

डायबिटीज एक भयंकर बीमारी है। जिसमें व्यक्ति का स्वास्थ्य प्रभावित होता है। इसके साथ ही डायबिटीज के चलते आपकी किडनी पर भी असर पड़ता है। इससे खून को छानकर शरीर में मौजूद गंदगी को यूरीन के जरिए बाहर निकालने वाली प्रक्रिया धीमी हो जाती है। इसलिए उच्च रक्त चाप, किडनी स्टोन और डायबिटीज वाले मरीजों को हर साल अपनी किडनी की जांच करानी चाहिए ताकि समय में पर इसका इलाज हो सके।

Loading...

Next post:

Previous post: